क्या आप लघु और सीमांत मछुआरों के लिए मुद्रा ऋण योजना के बारे में जानते हैं? अगर नहीं तो पोस्ट को पढ़िए, आपको कैसे लाभ मिलेगा, यह आपके लिए फायदेमंद है।

लघु और सीमांत मछुआरों के लिए मुद्रा ऋण योजना।

केंद्र सरकार ने लघु और सीमांत मछुआरों के लिए ऋण योजना की घोषणा की है। इस योजना के माध्यम से, सरकार उन्हें आधुनिक नावों की खरीद के लिए ऋण प्रदान करेगी ताकि वे गहरे समुद्र में उद्यम करके अपना व्यवसाय बढ़ा सकें।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्र शासित प्रदेश दमन और दीव में आयोजित एक सार्वजनिक बैठक में मछुआरे के लिए इस ऋण योजना की घोषणा की। यह योजना उन गरीब मछुआरों के लिए है जो वित्त की कमी के कारण आधुनिक प्रकार की नौकाएं खरीदने में सक्षम नहीं हैं। यह योजना उन लोगों को लाभ प्रदान करेगी जो छोटी नावों के मालिक हैं, जो समुद्र के गहरे हिस्से में नहीं जा सकते और पर्याप्त मछलियों को नहीं पकड़ सकते।

सरकार ने योजना का मसौदा लगभग पूरा कर लिया है जिसे पूरे देश में लागू किया जाएगा। योजना के निर्देशों के अनुसार, रु। केंद्र सरकार के MUDRA योजना के तहत एक गांव में गरीब मछुआरों के समूह को 1 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। योजना के तहत, योजना के कुल धन का 50 प्रतिशत केंद्र सरकार द्वारा योगदान दिया जाएगा।

मछुआरों के समूह को मछली पकड़ने की एक बड़ी नाव दी जाएगी ताकि वे 12 समुद्री मील से आगे निकल सकें, जहाँ वे बड़ी संख्या में मछलियाँ पकड़ सकें। छोटे मछुआरे, अकेले मछली पकड़ने के बजाय, ऐसे समूहों का हिस्सा हो सकते हैं और लाभ साझा कर सकते हैं।

YOUR REACTION?